रक्षा बंधन आज, १०० बरसों में पहली बार चतुर्योग में रक्षा बंधन, जानें राखी बांधने का शुभ मुहूर्त

सावन मास की पूर्णिमा के दिन रक्षाबंधन (Raksha Bandhan 2020) का त्योहार मनाया जाता है. इस साल रक्षा बंधन का पर्व 3 अगस्त 2020 यानी सोमवार को मनाया जाएगा. रक्षाबंधन भाई-बहन का पवित्र त्योहार है. रक्षा बंधन पर आज सोमवार और पूर्णिमा का योग भगवान महादेव की विशेष कृपा दिलाएगा। इस बार रक्षा बंधन पर शताब्दी में पहली बार चतुर्योग में रक्षा बंधन आ रहा है। 

इस दिन बहन भाई की कलाई में राखी बांधती है और भाई बहन की रक्षा करने का वचन देता है. ये रक्षाबंधन बहुत खास होने वाला है क्योंकि इस साल रक्षाबंधन पर सर्वार्थ सिद्धि और आयुष्मान दीर्घायु का शुभ संयोग बन रहा है.

रक्षा बंधन आज, १०० बरसों में पहली बार चतुर्योग में रक्षा बंधन, जानें राखी बांधने का शुभ मुहूर्त

रक्षा बंधन पर आज सोमवार और पूर्णिमा का योग भगवान महादेव की विशेष कृपा दिलाएगा। इस बार रक्षा बंधन पर शताब्दी में पहली बार चतुर्योग में रक्षा बंधन आ रहा है। रक्षा बंधन पर आज सोमवार और पूर्णिमा का योग भगवान महादेव की विशेष कृपा दिलाएगा। इस बार रक्षा बंधन पर शताब्दी में पहली बार चतुर्योग में रक्षा बंधन आ रहा है। 

सर्वार्थ-सिद्धि योग आयुष्मान योग के चलते दीर्घायु का वर प्रदान करेगा। भाई बहनों के लिए यह बहुत ही फलदायी योग है। इस बार भद्रा और राहुकाल 9.30 से पहले ही समाप्त हो रहे हैं। इस योग में भाई-बहन की सभी इच्छाएं पूरी होंगी।

रक्षा बन्धन पर राखी बांधने  (Raksha Bandhan 2020 subh muhurat)का शुभ मुहूर्त 

रक्षा बन्धन सोमवार, अगस्त 3, 2020 को
रक्षा बन्धन अनुष्ठान का समय – 09:24 ए एम से 09:14 पी एम
अवधि – 11 घण्टे 49 मिनट्स
रक्षा बन्धन के लिये अपराह्न का मुहूर्त – 01:49 पी एम से 04:29 पी एम
अवधि – 02 घण्टे 41 मिनट्स
रक्षा बन्धन के लिये प्रदोष काल का मुहूर्त – 04:10 पी एम से 09:14 पी एम
अवधि – 02 घण्टे 04 मिनट्स

1 thought on “रक्षा बंधन आज, १०० बरसों में पहली बार चतुर्योग में रक्षा बंधन, जानें राखी बांधने का शुभ मुहूर्त”

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.